विदेशी मुद्रा विनिमय दर पर आज के कार्यान्वयन


विदेशी मुद्रा बाजार, विश्व की मुद्राओं के क्रय-विक्रय (व्यापार) का बाजार है जो विकेन्द्रित, चौबीसों घंटे चलने वाला, काउन्टर पर किया जाने वाले (over the counter) कारोबार है। अन्य वित्तीय बाजारों की अपेक्षा यह बहुत नया है और पिछली शताब्दी में सत्तर के दशक में आरम्भ हुआ। फिर भी सम्पूर्ण कारोबार की दृष्टि से यह सबसे बड़ा बाजार है। विदेशी मुद्राओं में प्रतिदिन लगभग ४ ट्रिलियन अमेरिकी डालर के तुल्य कामकाज होता है। अन्य बाजारों की तुलना में यह सबसे अधिक स्थायित्व वाला बाजार है। का प्रचलन शुरू हुआ। अचल विदेशी मुद्रा दरों का चलन, प्री वर्लड वार (Pre World war) समय में जारी आर्थिक भेदभाव के मुद्दों की वजह से हुआ, जहां कुछ देशों के पास दूसरे देशों की तुलना में अधिक व्यापारिक अधिकार होते थे। स्वतंत्र व्यापार को बढ़ावा देने के लिये, अलग - अलग मुद्राओं के बीच स्वतंत्र परिवर्तन का होना ज़रूरी समझा गया और इसीलिए अचल विदेशी मुद्रा दर प्रणाली अस्तित्व में आई. पोंज़ी योजना एक धोखाधड़ी निवेश आपरेशन होता है जहां अपने निवेशकों को रिटर्न का भुगतान बजाय व्यक्तियों द्वारा चलाए कारोबार के अर्जित लाभ से वह अपने स्वयं के पैसे से या बाद में आए निवेशकों के पैसों से किया जाता है। आखरी निवेशकों की कीमत पर पोंज़ी योजनाओं पतन के लिए ही बनाई जाती है, जब काफी नए प्रतिभागि नहीं होते। Bitcoin एक मुफ्त सॉफ्टवेयर परियोजना है बिना कोई केंद्रीय सत्ता के। नतीजन, कोई भी निवेश रिटर्न के बारे में धोखाधड़ी अभ्यावेदन बनाने की स्थिति में नही होता। सोने, अमेरिका डॉलर, यूरो, येन, आदि जैसे अन्य प्रमुख मुद्राओं की तरह, क्रय शक्ति की कोई गारंटी नही होती और विनिमय दर स्वतंत्र रूप से बहता है। इससे अस्थिरता आती है जहां Bitcoins के मालिक पैसे बना या गवा सकते हैं। अटकलों से परे, Bitcoin भुगतान की प्रणाली भी है, उपयोगी और प्रतिस्पर्धी विशेषताओं के साथ जो हजारों उपयोगकर्ताओं और व्यवसायों के द्वारा उपयोग किए जा रहे हैं। Bitcoin, "क्रिप्टो मुद्रा" नामक अवधारणा का पहला कार्यान्वयन है जो पहली बार, cypherpunks मेलिंग सूची पर, Wei Dai द्वारा 1998 में वर्णित किया गया था, पैसे के एक नए रूप का सुझाव देते हुए जो निर्माण और सौदे को नियंत्रित करने के लिए, केंद्रीय सत्ता के बदले, क्रिप्टोग्राफी का उपयोग करता है। पहला Bitcoin विनिर्देश और अवधारणा का सबूत 2009 में एक क्रिप्टोग्राफी मेलिंग सूची में, Satoshi Nakamoto द्वारा प्रकाशित किया गया था। अपने बारे मे बगैर कुछ ज्यादा बताए, Satoshi ने 2010 में इस परियोजना को छोड़ दिया। यह समुदाय बाद में तेजी से बढ़ती गई कई डेवलपर्स के साथ जो Bitcoin पर काम कर रहे है। Satoshi की गुमनामी अक्सर अनुचित चिंताओं को उठाती थी, जिनमें से कई Bitcoin के खुले स्रोत प्रकृति से जुड़े गलतफहमी की वजह से। Bitcoin प्रोटोकॉल और सॉफ्टवेयर खुले तौर पर प्रकाशित किया जाता है और दुनिया भर में कोई भी डेवलपर कोड की समीक्षाण कर सकता है या Bitcoin सॉफ्टवेयर का अपने खुद का संशोधित संस्करण बना सकता है। वर्तमान के डेवलपर्स की तरह, Satoshi का प्रभाव उनके किए हुए परिवर्तन तक ही सीमित था जो लोग अपना रहे थे और इसलिए उनका Bitcoin पर नियंत्रण नहीं था। इसलिए Bitcoin के आविष्कारक की पहचान आज उतने ही माने रखती है जितनी के कागज के आविष्कारिक के पहचान की। हां। इतिहास में विफल मुद्राओं के बारे में काफी देख सकते हैं जो अब उपयोग में नही है। जैसे कि जर्मन मार्क वीमर गणराज्य के दौरानस और हाल ही में, जिम्बाब्वे डॉलर. विदेशी मुद्रा विनिमय दर पर आज के कार्यान्वयन The Binary Options Experts Revi Ilamarkov3 noreply@Blogger 200 1 25 tagblogger.com,1999blog-3505762195110173860. भारत रत्न बाजार. का प्रोडक्ट. करने लगा लांच. हम सारे लोग. उपभोक्ता को और अधिक सुरक्षा मांगने का विकल्प देते हुए, जब वे किसी व्यापारी पर भरोसा करने को तैयार ना हो तो। नए Bitcoins प्रतिस्पर्धी और विकेन्द्रीकृत प्रक्रिया जिसे "खनन" कहते हैं, द्वारा उत्पन्न होते हैं। इस प्रक्रिया में व्यक्ति उनके सेवाओं के लिए नेटवर्क द्वारा पुरस्कृत किए जाए यह जरुरी है। Bitcoin खनिक, विशेष हार्डवेयर के उपयोग से लेनदेन और नेटवर्क सुरक्षा कार्रवाई कर के बदले में नए bitcoins एकत्रित कर रहे हैं Bitcoin प्रोटोकॉल इस तरह से बने हैं कि नए bitcoins एक निश्चित दर पर बनाए जाते हैं। यह Bitcoin खनन को एक बहुत ही प्रतिस्पर्धी व्यापार बनाता है। जब अधिक खनिक नेटवर्क में शामिल होते हैं यह लाभ बनाने के लिए मुश्किल खड़ा करते हैं और अपने परिचालन लागत में कटौती करने के लिए, खनिक को दक्षता की तलाश करना चाहिए। अपने लाभ को बढ़ाने के लिए, कोई केंद्रीय सत्ता या डेवलपर का प्रणाली पर नियंत्रण होता है या हेरफेर करने के की शक्ति। दुनिया में हर Bitcoin नोड, हर उसे अस्वीकार कर देंगे जो नियमों का पालन नहीं करते। Bitcoins एक कम और उम्मीद के मुताबिक दर पर बनाए जाते हैं। हर साल बनाए गए नए Bitcoins की संख्या समय के साथ आधे हो जाते हैं जब तक Bitcoin जारी करना पूरी तरह बंद होता है, कुल 21 लाख bitcoins के साथ। इस समय, Bitcoin खनिक शायद विशेष रूप से, कई छोटे लेन - देन शुल्क से.समर्थन किेए जाएगे। Bitcoins का मूल्य होता है क्योंकि, वे पैसो की तरह उपयोगी होते हैं। गणित के गुणों पर आधारित, भौतिक गुणों पर निर्भर होने के बजाय (सोने और चांदी की तरह) या केंद्रीय अधिकारियों में विश्वास (फिएट मुद्राओं की तरह) Bitcoin को पैसे का लक्षण होता है (स्थायित्व, पोर्टेबिलिटी, fungibility, कमी, विभाज्यता, और स्वीकार्यता)। संक्षेप में, Bitcoin गणित के द्वारा समर्थित है। इन विशेषताओं के साथ, पैसे जैसे वस्तू को मूल्य बनाए रखने के लिए विश्वास और अपनाना, जरूरी है। Bitcoin के मामले में, उपयोगकर्ता, व्यापारि, और नए स्टार्ट-अप के बढ़ते तादाद से मापा जा सकता है। जैसे कि सभी मुद्रा के साथ, Bitcoin का मूल्य आता है सिर्फ और सीधे लोगों की इस रुप में भुगतान पाने के स्वीक्रुती से। . के बीच घटती बढ़ती रही। इस अस्थिरता के कारण भी देश को बहुत नुकसान हुआ। हिल्टन यंग कमीशन की रिपोर्ट सन् १९२६ ई.

Stock Exchange Marknaden I Sverige

हालाकि, पिछले मुद्राओं की विफलता अधिक मुद्रास्फीति के कारण थी, जो Bitcoin असंभव बनाता है, लेकिन, तकनीकी विफलता, प्रतिस्पर्धा मुद्रा, राजनीतिक मुद्दों इतियादी की संभावना हमेशा होती है। बुनियादी रूप से किसी भी मुद्रा को विफलता या कठिन समय से, पूरी तरह सुरक्षित नही माना जाना चाहिए। जब से इसका निर्माण हुआ है Bitcoin सालों से विश्वसनीय साबित हुआ है और विकसित रहने के लिए Bitcoin के लिए काफी क्षमता है। हालांकि, कोई भी भविष्यवाणी करने के स्थिति में नही है कि Bitcoin का भविष्य क्या होगा। कीमत में तेजी से वृद्धि का मतलब बुलबुला नहीं है। एक नकली अधिक मूल्यांकन जिस कि वजह से अचानक सुधार के लिए भाव गिरते है, उसे बुलबुला करते है। व्यक्तिगत मानव कार्रवाई के आधार पर विकल्प, जो हज़ारो लाखों बाजार सहभागियों से मिला है, वह Bitcoin की कीमत के उतार चढ़ाव का कारण है जैसे जैसे मार्केट सही किमत खोजती है। भाव में परिवर्तन का कारण हो सकता है Bitcoin पर विश्वास खोना, मूल्य और कीमत के बीच में एक बड़ा अंतर जो Bitcoin अर्थव्यवस्था की बुनियाद पर आधारित नहीं है, प्रेस कवरेज में वृद्धि जो काल्पनिक मांग उत्तेज करती है, अनिश्चितता का डर, और पुराने जमाने से चलेि आ रही तर्कहीन अधिकता और लालच। पोंज़ी योजना एक धोखाधड़ी निवेश आपरेशन होता है जहां अपने निवेशकों को रिटर्न का भुगतान बजाय व्यक्तियों द्वारा चलाए कारोबार के अर्जित लाभ से वह अपने स्वयं के पैसे से या बाद में आए निवेशकों के पैसों से किया जाता है। आखरी निवेशकों की कीमत पर पोंज़ी योजनाओं पतन के लिए ही बनाई जाती है, जब काफी नए प्रतिभागि नहीं होते। Bitcoin एक मुफ्त सॉफ्टवेयर परियोजना है बिना कोई केंद्रीय सत्ता के। नतीजन, कोई भी निवेश रिटर्न के बारे में धोखाधड़ी अभ्यावेदन बनाने की स्थिति में नही होता। सोने, अमेरिका डॉलर, यूरो, येन, आदि जैसे अन्य प्रमुख मुद्राओं की तरह, क्रय शक्ति की कोई गारंटी नही होती और विनिमय दर स्वतंत्र रूप से बहता है। इससे अस्थिरता आती है जहां Bitcoins के मालिक पैसे बना या गवा सकते हैं। अटकलों से परे, Bitcoin भुगतान की प्रणाली भी है, उपयोगी और प्रतिस्पर्धी विशेषताओं के साथ जो हजारों उपयोगकर्ताओं और व्यवसायों के द्वारा उपयोग किए जा रहे हैं। कुछ प्ररंभिक अनुकूलक के पास बड़ी संख्या में bitcoins होते हैं क्योंकि उन्होंने जोखिम लिया और समय और संसाधनों का निवेश किया एक अप्रमाणित प्रौद्योगिकी में जो शायद ही किसी के द्वारा इस्तेमाल की गई थी और सुरक्षित करना बहुत कठिन था। कई प्रारंभिक अनुकूकल कई बार, मूल्यवान बनने से पहले, बड़ी संख्या में bitcoins खर्च किया या केवल थोड़ी मात्रा में खरीदे और बड़ी मात्रा में मुनाफा नही बनाया। इसकी कोई गारंटी नहीं है कि bitcoin की कीमत बढ़ागी या घटेगी। यह एक प्रारंभिक स्टार्टअप में निवेश की तरह ही है जो उपयोगिता और लोकप्रियता के माध्यम से मूल्य में लाभ हो सकता है या तो कभी सफल नही हो सकता। Bitcoin अपनी प्रारंभिक अवस्था में है और यह एक बहुत ही लंबी अवधि के दृश्य से डिजाइन किया गया है; यह प्ररंभिक अनुकूलक के प्रति पक्षपाती कैसे हो सकता है यह समझना मुशकिल है और आजके उपयोगकर्ता शायद कल के प्ररंभिक अनुकूलक हो ना हो। Bitcoin अद्वितीय है क्योंकि केवल 21 लाख bitcoins बनाए जाएंगे। लेकिन, यह एक सीमा नहीं बनेगी क्योंकि लेनदेन छोटे bitcoin उप-इकाइयों में नामित कि जा सकती है जैसे - 1 bitcoin में 1,000,000 बिट होते हैं। Bitcoins 8 दशमलव स्थानों तक बाटे जा सकते हैं (0.000 000 01) और कभी भविष्य में आवश्यक हो तो, और छोटे यूनिटोंं मे जैसे जैसे औसत लेन-देन का आकार कम होता है। अपस्फीतिकर सर्पिल सिद्धांत कहता है कि कीमत में गिरावट की उम्मीद हो तो लोग कम कीमतों से लाभ उठाने के लिए खरीदी को भविष्य के लिए टाल देंगे। मांग में गिरावट होने से बदले में व्यापारियों को उनकी कीमतें कम करनी होगी जिससे वे मांग को प्रोत्साहित करने की कोशीश करेंगे, जिससे समस्या औक भी गंभीर हो जाएगी और यह एक आर्थिक मंदी के ओर ले जाएगी। हालाकि यह सिद्धांत मुद्रास्फीति का औचित्य साबित करने के लिए केंद्रीय बैंकरों के बीच एक लोकप्रिय तरीका है, यह हमेशा सच प्रतीत नहीं होता और अर्थशास्त्रियों के बीच विवादास्पद माना जाता है। उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स बाजार का एक उदाहरण है जहां कीमतें लगातार गिरती है लेकिन यह आरथिक अवसाद नहीं है। इसि तरह, Bitcoins का मूल्य समय के साथ बढ़ता गया है और फिर भी Bitcoin के अर्थव्यवस्था का आकार भी इसके साथ प्रभावशाली रूप से बढता गया है। क्योंकि दोनों मुद्रा का मूल्य और अर्थव्यवस्था का आकार , 2009 में शून्य पर शुरू हुए। Bitcoin इस सिद्धांत के गणक उदाहरण है, यह दिखाते हुए कि कभी कभी यह गलत होता होगा। इसके बावजूद भी, Bitcoin एक अपस्फीतिकर मुद्रा होने के लिए तैयार नहीं किए गए। यह कहना ज्यादा सही होगा कि यह इरादा था कि Bitcoin अपने प्रारंभिक वर्षों में बढे और आते वर्षों में स्थिर हो जाए। केवल उसी समय संचलन में Bitcoins की मात्रा कम होगी जब लोग लापरवाही से बैकअप ना करने की वजह से उनके पर्स खोने लगेंगे। एक स्थिर मौद्रिक आधार और अर्थव्यवस्था के साथ मुद्रा के मूल्य डटे रहना चाहिए। यह एक चिकन और अंडे वाली स्थिति है। Bitcoin की कीमत स्थिर करने के लिए, अधिक कारोबार और उपयोगकर्ताओं के साथ एक बड़े पैमाने पर अर्थव्यवस्था के विकास की जरूरत है। एक बड़े पैमाने पर अर्थव्यवस्था को विकसित करने के लिए, व्यवसाय और उपयोगकर्ता मूल्य स्थिरता की तलाश करेंगे। सौभाग्य से, अस्थिरता Bitcoin के मुख्य लाभ को, एक भुगतान प्रणाली के रूप में, एक से दुसरे जगह पैसे को हस्तांतरण करने में, प्रभावित नहीं करती। कारोबार को अपने स्थानीय मुद्रा में Bitcoin भुगतान को तुरंत कन्वर्ट करने के लिए यह संभव करती है। कीमत के उतार चढ़ाव पर बिना अधीन हुए, उन्हें Bitcoin के फायदे से लाभ उठाने देती है। क्योंकि Bitcoin कई उपयोगी और अद्वितीय विशेषताएं और गुण प्रदान करता है, कई उपयोगकर्ता Bitcoin का उपयोग करते हैं। इस तरह के समाधान और प्रोत्साहन के साथ, Bitcoin परिपक्व और विकसित होगा यह संभव है और उस हद तक विकसित होगा जहां कीमतों में अस्थिरता सीमित हो जाएगी। आजके तारीख तक जारी किए गए bitcoins का एक छोटा अंश, मुद्रा बाजार में बिक्री के लिए मौजूद है। Bitcoin बाजार प्रतिस्पर्धी होते हैं, इसका मतलब आपूर्ति और मांग के आधार पर bitcoin की कीमत बढती या गिरती जाएगी। इसके अतिरिक्त, आने वाले दशकों तक, नए bitcoins जारी किए जाते रहेंगे। इसलिए सबसे निर्धारित खरीदार भी अस्तित्व में सभी bitcoins नहीं खरीद सकता। इस स्थिति से यह सुझाव नही दे रहे कि बाजार, मूल्य हेरफेर की चपेट में नहीं हैं; बाजार मूल्य को ऊपर या नीचे स्थानांतरित करने के लिए, अभी भी काफी मात्रा में पैसे नहीं लगते, और इस तरह bitcoin एक अस्थिर संपत्ति बना हुआ है। ऐसा हो सकता है। अभी के लिए, Bitcoin अब तक का सबसे लोकप्रिय विकेन्द्रीकृत आभासी मुद्रा है, लेकिन यह पोजीशन बनी रहेगी इसकी कोई गारंटी नहीं है। पहले से ही Bitcoin से प्रेरित, वैकल्पिक मुद्राओं का एक सेट है। नई मुद्रा को Bitcoin से, स्थापित बाजार के संदर्भ में, आगे निकल ने के लिए, यह कल्पना करना शायद सही है कि महत्वपूर्ण सुधार की आवश्यकता होगी, हालाकि यह अप्रत्याशित बनी हुई है। Bitcoin भी प्रतिस्पर्धा मुद्राओं की सुधारों को अपना सकता है, जब तक अपने मौलिक प्रोटोकॉल के भागों को बदलता नहीं। Bitcoin के साथ भुगतान प्राप्ती लगभग तुरंत होती है। नेटवर्क आपके लेन - देन की पुष्टि शुरू करने तक 10 मिनट का समय लग सकता है जब उसे ब्लॉक में जमा कर के प्राप्त किए Bitcoins को आप खर्च कर सकते हैं। संपुष्टि का मतलब है कि नेटवर्क पर आम सहमति है कि आपके द्वारा प्राप्त किए Bitcoins किसी और को नहीं भेजे गए हैं, और वह आप की संपत्ति मानी जाती है। जब आपका लेन - देन एक ब्लॉक में शामिल किया जाता है, फिर हर बादके आने वाले ब्लॉक के नीचे दबा जाएगा, जिससे तेजी से यह आम सहमति को मजबूत करे के उलट लेनदेन के जोखिम को कम करेगा। हर उपयोगकर्ता निर्धारित करने के लिए स्वतंत्र है कि किस समय वे लेन - देन की पुष्टि को मानते हैं, लेकिन 6 पुष्टियां अक्सर सुरक्षित माने जाते हैं, जिस तरह क्रेडिट कार्ड लेन - देन पर 6 महीने का इंतजार। अधिकांश लेनदेन शुल्क के बिना संसाधित किए जा सकते हैं, लेकिन उपयोगकर्ताओं को अपने लेनदेन की तेजी पुष्टि के लिए एक छोटे से स्वैच्छिक शुल्क का भुगतान और खनिक को पारिश्रमिक देने के लिए प्रोतसाहित करते हैं। जब फीस की आवश्यकता होती है, वे आम तौर पर कुछ पैसे से अधिक नहीं होते। आपके Bitcoin ग्राहक आमतौर पर आवश्यकता होने पर उचित शुल्क का अनुमान लगाते हैं। लेन - देन की फीस एक संरक्षण के रूप, उपयोगकर्ताओं के खिलाफ उपयोग कि जाती है, जो नेटवर्क अधिभार के लिए लेनदेन भेजते हैं। फीस कैसे हो इसका सटीक तरीका अभी भी विकसित किया जा रहा है और समय के साथ बदलेगा। क्योंकि फिस का शुल्क, भेजे जा रहे Bitcoins की राशि से संबंधित नहीं है, यह बेहद कम लगेगा (0.0005 BTC, 1,000 BTC स्थानांतरण के लिए) या हद से ज्यादा उच्च (0.004 BTC, 0.02 BTC भुगतान के लिए)। फी शुल्क विशेषताओं द्वारा परिभाषित किया जाता है, जैसे डेटा लेन - देन में और लेन - देन पुनरावृत्ति। उदाहरण के लिए, यदि आप छोटी मात्रा कई बार प्राप्त कर रहे हैं तो फिर भेजने की फीस अधिक होगी। यह भुगतान, एक रेस्तरां के बिल का भुगतान केवल छुट्टे पैसाैं से करने की तुलना है। अपने Bitcoins को छोटे छोटे भिन्न खर्च जल्दि जल्दि करने पर भी शुल्क की आवश्यकता हो सकती है। यदि आप अपनी गतिविधि पारंपरिक लेनदेन अनुसरण करते हैं तो फीस बहुत कम होगा। इस में कोई हरकत नही। अगली बार जब आप अपना बटुआ आवेदन शुरू करते हैं तो bitcoins दिखाई देंगे। bitcoins वास्तव में आपके कंप्यूटर पर सॉफ्टवेयर के द्वारा प्राप्त नहीं होते, वे एक सार्वजनिक बही खाते में जोड़े जाते हैं जो उस नेटवर्क पर सभी उपकरणों के बीच साझा किए जाते हैं। यदि आपको bitcoins भेजे जाते हैं, जब आपका बटुआ ग्राहक कार्यक्रम बंद हो तो, जब आप बाद में इसे लांच करते हैं तो यह ब्लॉक डाउनलोड करेगा और सभी लेनदेन को पकड़ेगा जो नए हो और bitcoins अंत में ऐसे दिखाई देंगे मानो वे वास्तविक समय में प्राप्त हुए हो। आपके बटुए कि केवल तब जरूरत होती है जब आपको bitcoins खर्च करने की इच्छा होती है। केवल पूर्ण नोड ग्राहक, जैसे Bitcoin कोर, के साथ ही लंबे सिनक्रोनायज़िंग समय की आवश्यकता होती है। तकनीकी तौर पर, तुल्यकालन नेटवर्क पर सभी पिछले Bitcoin लेनदेन को डाउनलोड कर के उन्हे सत्यापित करने की प्रक्रिया है। कुछ Bitcoin ग्राहकों के लिए, खर्च करने योग्य अपने Bitcoin बटुए में शेष राशि की गणना और नए लेनदेन करने के लिए सभी पिछले लेनदेन के बारे में पता करना जरूरी होता है। यह कदम संसाधन गहन हो सकता है और पर्याप्त बैंडविड्थ की और भंडारण की आवशक्यता होती है समायोजित करने के लिए ब्लॉक श्रृंखला का पूरा आकार. Bitcoin एक आम सहमति नेटवर्क है जो एक नई भुगतान प्रणाली और डिजिटल पैसा को पूरी तरह से सक्षम बनाती है। यह पहली विकेन्द्रीकृत सहकर्मी से सहकर्मी भुगतान नेटवर्क है जो अपने उपयोगकर्ताओं के द्वारा संचालित है बिना किसी केंद्रीय सत्ता या व्यक्ति के। एक उपयोगकर्ता के नजरिए से Bitcoin इंटरनेट के लिए नकद की तरह ही है। Bitcoin आज सबसे प्रमुख ट्रिपल प्रविष्टि बहीखाता प्रणाली के रूप में देखा जा सकता है। Bitcoin, "क्रिप्टो मुद्रा" नामक अवधारणा का पहला कार्यान्वयन है जो पहली बार, cypherpunks मेलिंग सूची पर, Wei Dai द्वारा 1998 में वर्णित किया गया था, पैसे के एक नए रूप का सुझाव देते हुए जो निर्माण और सौदे को नियंत्रित करने के लिए, केंद्रीय सत्ता के बदले, क्रिप्टोग्राफी का उपयोग करता है। पहला Bitcoin विनिर्देश और अवधारणा का सबूत 2009 में एक क्रिप्टोग्राफी मेलिंग सूची में, Satoshi Nakamoto द्वारा प्रकाशित किया गया था। अपने बारे मे बगैर कुछ ज्यादा बताए, Satoshi ने 2010 में इस परियोजना को छोड़ दिया। यह समुदाय बाद में तेजी से बढ़ती गई कई डेवलपर्स के साथ जो Bitcoin पर काम कर रहे है। Satoshi की गुमनामी अक्सर अनुचित चिंताओं को उठाती थी, जिनमें से कई Bitcoin के खुले स्रोत प्रकृति से जुड़े गलतफहमी की वजह से। Bitcoin प्रोटोकॉल और सॉफ्टवेयर खुले तौर पर प्रकाशित किया जाता है और दुनिया भर में कोई भी डेवलपर कोड की समीक्षाण कर सकता है या Bitcoin सॉफ्टवेयर का अपने खुद का संशोधित संस्करण बना सकता है। वर्तमान के डेवलपर्स की तरह, Satoshi का प्रभाव उनके किए हुए परिवर्तन तक ही सीमित था जो लोग अपना रहे थे और इसलिए उनका Bitcoin पर नियंत्रण नहीं था। इसलिए Bitcoin के आविष्कारक की पहचान आज उतने ही माने रखती है जितनी के कागज के आविष्कारिक के पहचान की। कोई भी Bitcoin नेटवर्क का मालिक नही है जैसे कोई भी ईमेल तकनीक का मालिक नही है। Bitcoin दुनिया भर के सभी Bitcoin उपयोगकर्ताओं द्वारा नियंत्रित किया जाता है। हालाकी डेवलपर्स सॉफ्टवेयर में सुधार ला रहे हैं, वे Bitcoin प्रोटोकॉल में कोई परिवर्तन लाने के लिए मजबूर नहीं कर सकते क्यों कि उपयोगकर्ता कोई भी सॉफ्टवेयर और संस्करण का उपयोग करने के लिए स्वतंत्र हैं। एक दूसरे से अनुकूल बने रहने के लिए सभी उपयोगकर्ताओं को एक ही नियम का पालन करने वाले साफ्टवेयर का इस्तमाल करना होता है। Bitcoin तभी सही ढंग से काम कर सकता है जब सभी उपयोगकर्ताओं के बीच पूर्ण सहमति हो। इसलिए, सभी उपयोगकर्ताओं और डेवलपर्स में इस आम सहमति की रक्षा का मजबूत प्रोत्साहन होता है। एक उपयोगकर्ता के नजरिए से Bitcoin केवल एक मोबाइल ऐप है या कंप्यूटर प्रोग्राम से ज्यादा कुछ नहीं है, जो उनको निजी Bitcoin बटुआ प्रदान करता है और उसके द्वारा भुगतान भेजने और प्राप्त करने देता है। इस तरह Bitcoin अधिकांश तरिके से उपयोगकर्ताओं के लिए काम करता है। पर्दे के पीछे, Bitcoin नेटवर्क "ब्लॉक श्रृंखला" नामक एक सार्वजनिक बही खाता साझा कर रहा है। इस खाते में सभी संसाधित लेन - देन होते हैं, जो उपयोगकर्ता के कंप्यूटर को प्रत्येक लेन - देन की वैधता की पुष्टि करने की अनुमति देते हैं। प्रत्येक लेन - देन की प्रामाणिकता डिजिटल हस्ताक्षर के द्वारा संरक्षित होती है, जो भेजने वाले पते से संबंधित होती है, जिस कि वजह से उपयोगकर्ता का अपने खुद के पते से पैसे भेजने पर पूरा नियंत्रण होता है। इसके अलावा, विशेष हार्डवेयर की कंप्यूटिंग शक्ति के उपयोग से किसी को भी लेनदेन की प्रक्रिया कोई भी कर के इस सेवा के लिए Bitcoins पर इनाम कमा सकता है। इसे "खनन या मायनिंग" कहा जाता है। Bitcoin के बारे में और अधिक जानने के लिए, आप समर्पित पेज और मूल कागज से परामर्श कर सकते हैं। हाँ Bitcoin का उपयोग करने वाले व्यवसायों और व्यक्तियों की संक्खा बढ रही है इस मे ईंट और रेत व्यवसाय जैसे रेस्तरां, अपार्टमेंट, कानून फर्म और और लोकप्रिय ऑनलाइन सेवाएं जैसे Name Cheap, वर्डप्रेस, रेडिट और Flattr शामिस है। हालाकी Bitcoin अपेक्षाकृत नया तरिता है, वह तेज़ी से आगे बढ़ रहा है। अगस्त 2013 के अंत में, संचलन में सभी bitcoins का मूल्यलाखों दैनिक bitcoins डॉलर दैनिक विमर्श के साथ, अमेरिका $ 1.5 बिलियन से अधिक हो गया। जब कि क्रेडिट कार्ड या पेपैल भुगतान के बदले में Bitcoins बेचने की इच्छा रखने वाले व्यक्तियों को खोजना संभव हो सकता है, ज्यादातर ऐक्सचेंज बाजार इन भुगतान विधियों द्वारा फंडिंग की अनुमति नहीं देता। यह इसलिए क्योंकी कभी कोई पेपैल के साथ Bitcoins खरीदता है और फिर आधे लेन - देन को उलटाता है। इसे आमतौर पर चार्जबैक कहा जाता है। Bitcoin से भुगतान करना डेबिट या क्रेडिट कार्ड की खरीद से आसान हैं, और व्यापारी खाते के बिना प्राप्त किया जा सकता है। भुगतान, अपने कंप्यूटर या स्मार्टफोन पर, बटुआ ऐपलिकेशन से किया जाता है, प्राप्तकर्ता का पता और भुगतान की राशि प्रवेश कर के, भेजे-सेंड दबा कर। प्राप्तकर्ता का पता आसानी से दर्ज करने के लिए कई पर्स, QR कोड स्कैन करके या NFC प्रौद्योगिकी की मदद से, दो फोनो को एक साथ छू कर, पता प्राप्त कर सकते हैं। क्यों की इस पर विश्वास की कोई आवश्यकता नही है इसलिए Bitcoin पर भरोसा किया जा सकता है। Bitcoin पूरी तरह से खुला स्रोत और विकेन्द्रीकृत है। इसलिए, दुनिया का कोई भी डेवलपर Bitcoin कैसे काम करता है यह सत्यापित कर सकता है। किसी के भी द्वारा वास्तविक समय में, अस्तित्व में जारी किए गए सभी लेनदेन और Bitcoins पारदर्शी परामर्श किए जा सकते हैं। सभी भुगतान तीसरी पार्टी पर निर्भर होने के बिना किए जा सकत हैं और पूरी प्रणाली, भारी सहकर्मी की समीक्षा और क्रिप्टोग्राफिक एल्गोरिदम, जैसे ऑनलाइन बैंकिंग के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं, से सुरक्षित है। कोई संगठन या व्यक्ति, Bitcoin नियंत्रित नही कर सकते और नेटवर्क सुरक्षित रहता है भले ही इस पर के सभी उपयोगकर्ता विश्वास योग्य ना हो। आपको Bitcoin या कोई भी उभरते प्रौद्योगिकी के साथ अमीर बनने की उम्मीद नही करनी चाहिए। कोई भी चीज़ जो बहुत अच्छी दिखाई दे लेकिन बुनियादी आर्थिक नियम का पालन नही करती उनसे हमेशा सावधान रहना चाहिए। Bitcoin बढता नवाचार है और इसपर व्यापार का अवसर हैं जिस पर जोखिम शामिल है। हालाकी अब तक यह बहुत तेज से विकसित हो रहा है, Bitcoin प्रगती करता रहेगा इसकी कोई गारंटी नहीं है। Bitcoin से संबंधित किसी पर समय और संसाधनों का निवेश करने में उद्यमशीलता की आवश्यकता होती है। Bitcoin साथ पैसे बनाने के विभिन्न तरीके हैं जैसे खनन, अटकलें या नया कारोबार शुरु करना। ये सारे तरीके प्रतिस्पर्धी हैं और लाभ की कोई गारंटी नहीं है। प्रत्येक व्यक्ति पर निर्भर है कि वे सभी परियोजना के लागत और जोखिम का उचित मूल्यांकन करे। Bitcoin क्रेडिट कार्ड और ऑनलाइन बैंकिंग नेटवर्क के जितना ही आभासी है, जो लोग प्रतिदिन इस्तेमाल करते हैं। Bitcoin ऑनलाइन और भौतिक भंडार में भुगतान के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है जैसे कि पैसा किसी अन्य रुप में। Bitcoins भौतिक रूप में भी बदला जा सकता है जैसे Casascius क्वाइंस लेकिन मोबाइल फोन से भुगतान करना आमतौर पर अधिक सुविधाजनक रहता है। Bitcoin शेष, एक बड़े वितरित नेटवर्क में जमा हो जाते हैं और वे धोखे से किसी के भी द्वारा बदले नहीं जा सकते। दूसरे शब्दों में, Bitcoin उपयोगकर्ताओं को अपने धन पर विशेष नियंत्रण होता है और क्योंकि Bitcoins आभासी हैं, सिर्फ इसलिए वे गायब नही हो सकते। Bitcoin अपने उपयोगकर्ताओं को गोपनीयता के स्वीकार्य स्तर के साथ, किसी भी पैसे के ही तरह, भुगतान भेजने और प्राप्त करने के सुवीधा देती है। हालांकि, Bitcoin गुमनाम नहीं है और नकद रूपयों की तरह गोपनीयता का स्तर पेशकश नहीं कर सकती। Bitcoin का उपयोग व्यापक सार्वजनिक रिकॉर्ड छोड़ाता है। विभिन्न तंत्र उपयोगकर्ताओं की गोपनीयता की रक्षा के लिए मौजूद हैं, इसके अलावा कई और अभी बनाए जा रहे हैं। हालांकि, अब भी काफी काम करना बाकी है जब इन सुविधाओं का सब Bitcoin उपयोगकर्ता सही ढंग से उपयोग कर सकते हैं। Bitcoin के साथ निजी लेनदेन गैरकानूनी उद्देश्यों के लिए इस्तेमाल किए जा सकता हैं, इस मुद्दे पर कुछ चिंता व्यक्त किए गए हैं। हालाकि, ध्यान में रखना चाहिए कि Bitcoin को भी निस्संदेह समान नियमों के अधीन हो पड़ेगा जैसे वित्तीय प्रणाली के अंदर पहले से ही जो नियम मौजूद हैं। Bitcoin नकद से अधिक बेनामी नहीं हो सकता और ना तो यह आपराधिक जांच की संभावना को रोक सकता। इसके अतिरिक्त, Bitcoin बड़ी रेंज के वित्तीय अपराधों को रोकने के लिए बनाया गया है। जब उपयोगकर्ता अपना बटुआ खो देता है, इसका मतलब संचलन से पैसा बाहर निकल जाता है। खोए bitcoins अभी भी ब्लॉक श्रृंखला में रहते हैं अन्य bitcoins की तरह। हालांकि, खोए हुए Bitcoins हमेशा के लिए निष्क्रिय हो जाते हैं क्योकि, किसी को भी निजी कुंजी (याँ) खोजने के कोई रास्ता नहीं होता जिससे उन्हें खर्च कर सके। आपूर्ति और मांग के कानून के वजह से जो बाकी है उनकी मांग उच्च होगी और क्षतिपूर्ति करने के लिए मूल्य में वृद्धि भी। आज की तुलना Bitcoin नेटवर्क प्रति सेकंड, बहुत अधिक लेनदेन प्रक्रिया कर सकता है। लेकिन, प्रमुख क्रेडिट कार्ड नेटवर्क के स्तर तक पहुंचने के लिए अभी पूरी तरह से तैयार नहीं है। वर्तमान सीमाओं को हटाने के लिए और भविष्य की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए काम अभी जारी है। शुरुवात से ही, Bitcoin नेटवर्क का हर पहलू हर समय मज़बूत, अनुकूलन, और विशेषज्ञता बनाया जा रहा है और आशा है कि कुछ सालों तक ऐसे ही चलता रहेगा। जैसे जैसे अधिक लोग यहां आएंगे, अधिक Bitcoin उपयोगकर्ता, हल्के ग्राहकों का उपयोग करेंगे और पूरा नेटवर्क नोड्स एक और विशेष सेवा बन सकते है। अधिक जानकारी के लिए देखें मापनीयता Wiki के पन्नों पर। जितना हम जानते हैं, हमारे ख्याल से, ज्यादातर क्षेत्राधिकारों में Bitcoin गैर कानूनी नही बताया गया है। हालांकि, कुछ क्षेत्राधिकार (जैसे अर्जेंटीना और रूस) कड़े रूप से विदेशी मुद्राओं पर प्रतिबंध लगाते हैं। अन्य क्षेत्राधिकार (जैसे थाईलैंड) कुछ संस्थाओं पर, जैसे Bitcoin एक्सचेंज, के लाइसेंस पर सीमा लगा सकते हैं। विभिन्न क्षेत्राधिकार से विनियामक, व्यक्तियों और व्यवसायों को औपचारिक, विनियमित वित्तीय प्रणाली के साथ इस नई प्रौद्योगिकी को एकीकृत करने के नियमों को प्रदान करने के लिए कदम उठा रहे हैं। उदाहरण के लिए, द फैयनैंशियल क्राइम एंफोर्समेंट नेटवर्क (Fin CEN), संयुक्त राज्य अमेरिका के राजकोष विभाग के एक ब्यूरो ने आभासी मुद्राओं से जुड़े कुछ गतिविधियों की विशेषता कैसे करता है, गैर बाध्यकारी मार्गदर्शन जारी किया है। Bitcoin पैसा है, और पैसा हमेशा दोनों कानूनी और गैरकानूनी उद्देश्यों के लिए इस्तेमाल किया गया है। वित्त अपराध करने के मामले में नकद, क्रेडिट कार्ड और वर्तमान बैंकिंग सिस्टम व्यापक रूप Bitcoin को पार करता है। भुगतान प्रणाली में Bitcoin महत्वपूर्ण नवीनता ला सकता हैं और इस तरह के नवाचार का लाभ उनके संभावित कमियों से कई अधिक माने जाते हैं। Bitcoin, पैसे को अधिक सुरक्षित बनाने और कई रूपों के वित्तीय अपराध के खिलाफ एक महत्वपूर्ण सुरक्षा के रूप में काम करने के लिए एक बड़ा कदम है। जैसे कि, नकली Bitcoins पूरी तरह से असंभव है। उपयोगकर्ता को अपने भुगतान पर पूर्ण नियंत्रण होता है और अननुमोदित शुल्क प्राप्त नहीं कर सकते जैसा कि क्रेडिट कार्डों के फ्रॉडों में होता है। Bitcoin लेनदेन अपरिवर्तनीय होते हैं और धोखाधड़ी शुल्क के प्रतिरक्षक। बहुत मजबूत और उपयोगी तंत्र का उपयोग कर के, जैसे बैकअप, एन्क्रिप्शन, और कई हस्ताक्षर, Bitcoin पैसे चोरी और नुकसान से सुरक्षित रखत है। कुछ मद्दे उठाए गए हैं कि क्योंकि Bitcoin गुप्त और अपरिवर्तनीय भुगतान करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है, वह अपराधियों को अधिक आकर्षित कर सकता है। हालाकि, ये सुविधाएं पहले से ही, नकद और तार हस्तांतरण में मौजूद है और पूरी तरह से स्थापित हो चुका है। Bitcoin आपराधिक जांच को नही रोक सकता। इसके पहले कि उनके लाभ अच्छी तरह से समझे मे आए, सामान्य तौर पर, महत्वपूर्ण सफलताओं को विवादास्पद होना आम है। इसका उदाहरण, कई अन्य के मं इंटरनेट है। Bitcoin प्रोटोकॉल, लगभग सभी उपयोगकर्ताओं के सहयोग के बिना, जो उपयोग के लिए खुद सॉफ्टवेयर चुनते हैं, संशोधित नहीं किया जा सकता। वैश्विक Bitcoin नेटवर्क के नियमों को स्थानीय प्राधिकारी को विशेष अधिकार आवंटित करने का प्रयास, व्यर्थ है। कोई भी अमीर संगठन खनन हार्डवेयर में निवेश कर के नेटवर्क के आधे कंप्यूटिंग शक्ति को नियंत्रित कर के हाल ही के लेनदेन को ब्लॉक या रिवर्स करने में सक्षम हो सकती है। हालांकि, इसकी कोई गारंटी नहीं है कि, वे इस शक्ति को बनाए रख सकते हैं, क्यों कि इस में उन्हे दुनिया में अन्य सभी खनिकों से ज्यादा निवेश करने की आवश्यकता होगी। हालांकि, किसी भी अन्य साधन के समान, Bitcoin के उपयोग को विनियमित करना संभव है। बस डॉलर की ही तरह, Bitcoin विविध उद्देश्यों के लिए इस्तेमाल किए जा सकते हैं, प्रत्येक क्षेत्राधिकार के कानूनों पर आधारित जिनमें से कुछ वैध या अवैध माने जा सकते हैं। इस संबंध में, Bitcoin किसी अन्य उपकरण या संसाधन से अलग नहीं है और प्रत्येक देश में अलग नियमों के अधीन होते हैं। Bitcoin का उपयोग, प्रतिबंधक नियमों से मुश्किल बनाए जा सकते हैं। यह निर्धारित करना कठिन है कि कितने प्रतिशत उपयोगकर्ता इस प्रौद्योगिकी का उपयोग करते रहेंगे। जो सरकार Bitcoin पर प्रतिबंध लगाना चुनती है वह घरेलू कारोबार और बाजार को विकासशील वनाने से रोकती है, और अन्य देश में इस नवाचार को स्थानांतरण करती है। हमेशा की तरह, नियामकों की चुनौती यह है कि वे कुशल समाधान विकसित करें साथ ही नए उभरते बाजारों की वृद्धि को रोके नहीं। Bitcoin फिएट मुद्रा किसी भी अधिकार क्षेत्र में कानूनी निविदा स्थिति के साथ, नहीं है। लेकिन बिना इस्तेमाल किए जाने वाले माध्यम के, अक्सर कर देयता अर्जित होते हैं। कई अलग अलग अधिकार क्षेत्र में कानूनों मे विस्तृत विविधता है जिसके कारण आय, बिक्री, पेरोल, पूंजीगत लाभ या कुछ अन्य फार्म के कर देयता Bitcoin के साथ उत्पन्न हो सकते हैं। Bitcoin अपनी शर्तों पर कारोबार करने के लिए लोगों को मुक्त करता है। प्रत्येक उपयोगकर्ता भुगतान भेजने और प्राप्त कर सकता है उसी तरह जैसे नगद में होता है, लेकिन वे अधिक जटिल ठेके में भी भाग ले सकते हैं। एकाधिक हस्ताक्षर लेन - देन, नेटवर्क के द्वारा स्वीकार किए जाते हैं, यदि, एक परिभाषित, निश्चित संख्या का समूह, लेन - देन पर हस्ताक्षर करने के लिए सहमत होते हैं। इससे, भविष्य में, अभिनव विवाद मध्यस्थता सेवा विकसित हो सकते हैं। इस तरह की सेवाए तीसरी पार्टी को, दूसरे पार्जटीयों के बीच असहमति होने पर, उनके पैसे पर नियंत्रण दिए बिना, मंजूरी या अस्वीकार की अनुमति देता है। नकद और अन्य भुगतान के तरीके के विरोध, Bitcoin हमेशा एक सार्वजनिक सबूत छोड़ता है कि लेन - देन हुआ था जो धोखाधड़ी प्रथाओं के साथ कारोबार के खिलाफ, संभवतः सहारा में इस्तेमाल किए जा सकते हैं। यह भी जानना योग्य है कि जबकि, व्यापारि आमतौर पर अपने सार्वजनिक प्रतिष्ठा पर निर्भर करते हैं, व्यवसाय में जमें रहने और अपने कर्मचारियों को भुगतान करने के लिए, नए उपभोक्ताओं के साथ व्यवहार करने के लिए उन्हे उसी स्तर की पहुँच नहीं होती। जिस तरह Bitcoin काम करता है, दोनों व्यक्तियों और व्यापारों को धोखाधड़ी के चार्जबैक के खिलाफ की रक्षा देता है. विदेशी मुद्रा विनिमय दर पर आज के कार्यान्वयन How To Trade Reversals In Forex . दर पर बनाए. कि सभी मुद्रा के. और विनिमय दर. . विदेशी. घुंघट की ओट में हैं।मुंहदिखायी की रस्म के साथ. Stock Market Crash 1929 InteractiveIlamarkov3 noreply@Blogger 200 1 25 tagblogger.com,1999blog-3505762195110173860. Bitcoin एक आम सहमति नेटवर्क है जो एक नई भुगतान प्रणाली और डिजिटल पैसा को पूरी तरह से सक्षम बनाती है। यह पहली विकेन्द्रीकृत सहकर्मी से सहकर्मी भुगतान नेटवर्क है जो अपने उपयोगकर्ताओं के द्वारा संचालित है बिना किसी केंद्रीय सत्ता या व्यक्ति के। एक उपयोगकर्ता के नजरिए से Bitcoin इंटरनेट के लिए नकद की तरह ही है। Bitcoin आज सबसे प्रमुख ट्रिपल प्रविष्टि बहीखाता प्रणाली के रूप में देखा जा सकता है। एक उपयोगकर्ता के नजरिए से Bitcoin केवल एक मोबाइल ऐप है या कंप्यूटर प्रोग्राम से ज्यादा कुछ नहीं है, जो उनको निजी Bitcoin बटुआ प्रदान करता है और उसके द्वारा भुगतान भेजने और प्राप्त करने देता है। इस तरह Bitcoin अधिकांश तरिके से उपयोगकर्ताओं के लिए काम करता है। पर्दे के पीछे, Bitcoin नेटवर्क "ब्लॉक श्रृंखला" नामक एक सार्वजनिक बही खाता साझा कर रहा है। इस खाते में सभी संसाधित लेन - देन होते हैं, जो उपयोगकर्ता के कंप्यूटर को प्रत्येक लेन - देन की वैधता की पुष्टि करने की अनुमति देते हैं। प्रत्येक लेन - देन की प्रामाणिकता डिजिटल हस्ताक्षर के द्वारा संरक्षित होती है, जो भेजने वाले पते से संबंधित होती है, जिस कि वजह से उपयोगकर्ता का अपने खुद के पते से पैसे भेजने पर पूरा नियंत्रण होता है। इसके अलावा, विशेष हार्डवेयर की कंप्यूटिंग शक्ति के उपयोग से किसी को भी लेनदेन की प्रक्रिया कोई भी कर के इस सेवा के लिए Bitcoins पर इनाम कमा सकता है। इसे "खनन या मायनिंग" कहा जाता है। Bitcoin के बारे में और अधिक जानने के लिए, आप समर्पित पेज और मूल कागज से परामर्श कर सकते हैं। खनन वह प्रक्रिया है, जहां कंप्यूटिंग शक्ति को जो लेनदेन की प्रक्रिया, नेटवर्क की सुरक्षा, और हर किसी को सिसटम में साथ मे सिंक्रनाइज़ रखना पर खर्च किया जाता है। यह Bitcoin डेटा सेंटर की तरह माना जा सकता है सिवाय यह पूरी तरह से विकेन्द्रित के लिए डिज़ाइन किया गया है, जहां सभी देशों में खनिक परिचालन करते हैं और किसा एक का नेटवर्क पर नियंत्रण नही होता। इस प्रक्रिया को "खनन" जाना जाता है, सोने के खनन के सादृश्य के रूप में क्योंकि यह भी नए bitcoins जारी करने के प्रयोग कि एक अस्थायी व्यवस्था है। सुरक्षित भुगतान नेटवर्क संचालित करने के लिए, आवश्यक उपयोगी सेवाओं के बदले में Bitcoin खनन इनाम प्रदान करता है। आखरी Bitcoin जारी करने के बाद भी, खनन की आवश्यक होगी। जब कि क्रेडिट कार्ड या पेपैल भुगतान के बदले में Bitcoins बेचने की इच्छा रखने वाले व्यक्तियों को खोजना संभव हो सकता है, ज्यादातर ऐक्सचेंज बाजार इन भुगतान विधियों द्वारा फंडिंग की अनुमति नहीं देता। यह इसलिए क्योंकी कभी कोई पेपैल के साथ Bitcoins खरीदता है और फिर आधे लेन - देन को उलटाता है। इसे आमतौर पर चार्जबैक कहा जाता है। हाँ Bitcoin का उपयोग करने वाले व्यवसायों और व्यक्तियों की संक्खा बढ रही है इस मे ईंट और रेत व्यवसाय जैसे रेस्तरां, अपार्टमेंट, कानून फर्म और और लोकप्रिय ऑनलाइन सेवाएं जैसे Name Cheap, वर्डप्रेस, रेडिट और Flattr शामिस है। हालाकी Bitcoin अपेक्षाकृत नया तरिता है, वह तेज़ी से आगे बढ़ रहा है। अगस्त 2013 के अंत में, संचलन में सभी bitcoins का मूल्यलाखों दैनिक bitcoins डॉलर दैनिक विमर्श के साथ, अमेरिका $ 1.5 बिलियन से अधिक हो गया। Bitcoin से भुगतान करना डेबिट या क्रेडिट कार्ड की खरीद से आसान हैं, और व्यापारी खाते के बिना प्राप्त किया जा सकता है। भुगतान, अपने कंप्यूटर या स्मार्टफोन पर, बटुआ ऐपलिकेशन से किया जाता है, प्राप्तकर्ता का पता और भुगतान की राशि प्रवेश कर के, भेजे-सेंड दबा कर। प्राप्तकर्ता का पता आसानी से दर्ज करने के लिए कई पर्स, QR कोड स्कैन करके या NFC प्रौद्योगिकी की मदद से, दो फोनो को एक साथ छू कर, पता प्राप्त कर सकते हैं। Bitcoin प्रौद्योगिकी - प्रोटोकॉल और क्रिप्टोग्राफी - का एक मजबूत सुरक्षा ट्रैक रिकॉर्ड है और शायद Bitcoin नेटवर्क दुनिया में सबसे बड़ा वितरित अभिकलन परियोजना है। Bitcoin का सबसे आम भेद्यता, उपयोगकर्ताओं की त्रुटि है। Bitcoin बटुए फ़ाइलें जो आवश्यक निजी कुंजी जमा करते हैं, गलती से नष्ट, गुम या चोरी हो सकते हैं। यह एक डिजिटल रूप में संग्रहित नगद कैश करने के समान ही है। सौभाग्य से, उपयोगकर्ता सहीसुरक्षा प्रथाओं को अपना सकते हैं सुरक्षा प्रथा अपने पैसे की रक्षा के लिए या सुरक्षा सेवा प्रदाता का इस्तमाल कर सकते हैं जो चोरी या नुकसान के खिलाफ बीमा का अच्छा स्तर प्रदान करते हैं। जितना हम जानते हैं, हमारे ख्याल से, ज्यादातर क्षेत्राधिकारों में Bitcoin गैर कानूनी नही बताया गया है। हालांकि, कुछ क्षेत्राधिकार (जैसे अर्जेंटीना और रूस) कड़े रूप से विदेशी मुद्राओं पर प्रतिबंध लगाते हैं। अन्य क्षेत्राधिकार (जैसे थाईलैंड) कुछ संस्थाओं पर, जैसे Bitcoin एक्सचेंज, के लाइसेंस पर सीमा लगा सकते हैं। विभिन्न क्षेत्राधिकार से विनियामक, व्यक्तियों और व्यवसायों को औपचारिक, विनियमित वित्तीय प्रणाली के साथ इस नई प्रौद्योगिकी को एकीकृत करने के नियमों को प्रदान करने के लिए कदम उठा रहे हैं। उदाहरण के लिए, द फैयनैंशियल क्राइम एंफोर्समेंट नेटवर्क (Fin CEN), संयुक्त राज्य अमेरिका के राजकोष विभाग के एक ब्यूरो ने आभासी मुद्राओं से जुड़े कुछ गतिविधियों की विशेषता कैसे करता है, गैर बाध्यकारी मार्गदर्शन जारी किया है। Bitcoin फिएट मुद्रा किसी भी अधिकार क्षेत्र में कानूनी निविदा स्थिति के साथ, नहीं है। लेकिन बिना इस्तेमाल किए जाने वाले माध्यम के, अक्सर कर देयता अर्जित होते हैं। कई अलग अलग अधिकार क्षेत्र में कानूनों मे विस्तृत विविधता है जिसके कारण आय, बिक्री, पेरोल, पूंजीगत लाभ या कुछ अन्य फार्म के कर देयता Bitcoin के साथ उत्पन्न हो सकते हैं। Bitcoin पैसा है, और पैसा हमेशा दोनों कानूनी और गैरकानूनी उद्देश्यों के लिए इस्तेमाल किया गया है। वित्त अपराध करने के मामले में नकद, क्रेडिट कार्ड और वर्तमान बैंकिंग सिस्टम व्यापक रूप Bitcoin को पार करता है। भुगतान प्रणाली में Bitcoin महत्वपूर्ण नवीनता ला सकता हैं और इस तरह के नवाचार का लाभ उनके संभावित कमियों से कई अधिक माने जाते हैं। Bitcoin, पैसे को अधिक सुरक्षित बनाने और कई रूपों के वित्तीय अपराध के खिलाफ एक महत्वपूर्ण सुरक्षा के रूप में काम करने के लिए एक बड़ा कदम है। जैसे कि, नकली Bitcoins पूरी तरह से असंभव है। उपयोगकर्ता को अपने भुगतान पर पूर्ण नियंत्रण होता है और अननुमोदित शुल्क प्राप्त नहीं कर सकते जैसा कि क्रेडिट कार्डों के फ्रॉडों में होता है। Bitcoin लेनदेन अपरिवर्तनीय होते हैं और धोखाधड़ी शुल्क के प्रतिरक्षक। बहुत मजबूत और उपयोगी तंत्र का उपयोग कर के, जैसे बैकअप, एन्क्रिप्शन, और कई हस्ताक्षर, Bitcoin पैसे चोरी और नुकसान से सुरक्षित रखत है। कुछ मद्दे उठाए गए हैं कि क्योंकि Bitcoin गुप्त और अपरिवर्तनीय भुगतान करने के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है, वह अपराधियों को अधिक आकर्षित कर सकता है। हालाकि, ये सुविधाएं पहले से ही, नकद और तार हस्तांतरण में मौजूद है और पूरी तरह से स्थापित हो चुका है। Bitcoin आपराधिक जांच को नही रोक सकता। इसके पहले कि उनके लाभ अच्छी तरह से समझे मे आए, सामान्य तौर पर, महत्वपूर्ण सफलताओं को विवादास्पद होना आम है। इसका उदाहरण, कई अन्य के मं इंटरनेट है। कीमत में तेजी से वृद्धि का मतलब बुलबुला नहीं है। एक नकली अधिक मूल्यांकन जिस कि वजह से अचानक सुधार के लिए भाव गिरते है, उसे बुलबुला करते है। व्यक्तिगत मानव कार्रवाई के आधार पर विकल्प, जो हज़ारो लाखों बाजार सहभागियों से मिला है, वह Bitcoin की कीमत के उतार चढ़ाव का कारण है जैसे जैसे मार्केट सही किमत खोजती है। भाव में परिवर्तन का कारण हो सकता है Bitcoin पर विश्वास खोना, मूल्य और कीमत के बीच में एक बड़ा अंतर जो Bitcoin अर्थव्यवस्था की बुनियाद पर आधारित नहीं है, प्रेस कवरेज में वृद्धि जो काल्पनिक मांग उत्तेज करती है, अनिश्चितता का डर, और पुराने जमाने से चलेि आ रही तर्कहीन अधिकता और लालच। Bitcoins का मूल्य होता है क्योंकि, वे पैसो की तरह उपयोगी होते हैं। गणित के गुणों पर आधारित, भौतिक गुणों पर निर्भर होने के बजाय (सोने और चांदी की तरह) या केंद्रीय अधिकारियों में विश्वास (फिएट मुद्राओं की तरह) Bitcoin को पैसे का लक्षण होता है (स्थायित्व, पोर्टेबिलिटी, fungibility, कमी, विभाज्यता, और स्वीकार्यता)। संक्षेप में, Bitcoin गणित के द्वारा समर्थित है। इन विशेषताओं के साथ, पैसे जैसे वस्तू को मूल्य बनाए रखने के लिए विश्वास और अपनाना, जरूरी है। Bitcoin के मामले में, उपयोगकर्ता, व्यापारि, और नए स्टार्ट-अप के बढ़ते तादाद से मापा जा सकता है। जैसे कि सभी मुद्रा के साथ, Bitcoin का मूल्य आता है सिर्फ और सीधे लोगों की इस रुप में भुगतान पाने के स्वीक्रुती से। .